गुरुवार, 10 नवंबर 2011

औरंगाबाद में आज की ताज़ा खबरे (९ नवम्बर २०११)


निरीक्षण में बंद मिला 21 आंगनबाड़ी केन्द्र

औरंगाबाद:
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सेवा यात्रा के शुरूआत के साथ ही अधिकारियों में हलचल तेज हो गई है। अधिकारी गांव पहुंच सरकारी योजनाओं का हकीकत देख रहे हैं। पहले न तो अधिकारी आंगनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण करते थे न स्कूलों का। आंगनबाड़ी के हालात क्या हैं यह किसी से छिपी नहीं है। बुधवार को डीएम अभय कुमार सिंह के नेतृत्व में अधिकारियों की 13 टीमों ने दाउदनगर नगर पंचायत क्षेत्र एवं गांवों आंगनबाड़ी केन्द्रों की हकीकत देखी। स्थिति देख अधिकारी दंग रह गए। गांव से ग्रामीणों की जो शिकायत जनता दरबार में पहुंचती थी हकीकत वही मिला। अधिकारियों की टीम ने 94 आंगनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण किया। डीएम ने बताया कि 21 आंगनबाड़ी केन्द्र बंद मिले। कई गांवों में ग्रामीणों को पता भी नहीं था कि यहां आंगनबाड़ी केन्द्र है। आंगनबाड़ी की स्थिति बदतर मिली। 17 आंगनबाड़ी केन्द्रों की स्थिति असंतोषप्रद रही। यानि की 94 में 38 आंगनबाड़ी केन्द्र की स्थिति बंद वाली रही। निरीक्षण के दौरान केन्द्रों पर अधिकारियों ने पोषाहार एवं टेक होम राशन के संबंध में पूछताछ की। लाभान्वितों ने बताया कि टेक होम राशन के तहत गर्भवती, धातृ एवं किशोरी युवतियों को तीन किलो चावल एवं डेढ़ किलो दाल देना है। अधिकांश केन्द्रों पर लाभान्वितों को तीन किलो चावल की जगह एक किलो एवं डेढ़ किलो दाल की जगह ढाई सौ ग्राम दाल मिलने की बात कही। डीएम ने बताया कि जो आंगनबाड़ी केन्द्र बंद मिले हैं उन सेविकाओं की सेवा बर्खास्त की जाएगी। जिन केन्द्रों की स्थिति ठीक नहीं है उनके खिलाफ भी कठोर कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने बताया कि प्रावधानों के अनुसार रद करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। बताया कि आंगनबाड़ी केन्द्रों की तरह जन वितरण प्रणाली, मनरेगा, मध्याह्न भोजन एवं पंचायत के योजनाओं की जांच की जाएगी। जांच में गड़बड़ी पाए जाने पर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने सभी कार्यालय प्रधानों को चेतावनी देते हुए कहा है कि अपने विभाग से कार्यान्वित योजनाओं की व्यवस्था दुरुस्त रखें। जो लापरवाही बरतेंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने जांच टीम औरंगाबाद एसडीओ कुमार देवेन्द्र प्रोज्ज्वल, दाउदनगर एसडीओ कमल नयन, आंगनबाड़ी के जिला प्रोग्राम पदाधिकारी जयशंकर प्रसाद, डीआरडीए निदेशक दिलीप कुमार, जिला योजना पदाधिकारी चन्द्रभूषण, वरीय उप समाहर्ता वकील प्रसाद सिंह, किशोर कुमार, चन्दन कुमार मंडल, दाउदनगर डीसीएलआर राजीव कुमार के नेतृत्व में गठित की गई थी। अधिकारियों के निरीक्षण से नगर पंचायत क्षेत्र एवं गांवों में हड़कंप व्याप्त है।

फर्जी चेक से साढ़े छह लाख की निकासी

औरंगाबाद :
जाली नोट के संबंध में आपने सुना होगा परंतु चेक भी जाली होता है यह चौंकाने वाली बात है। शहर के पीएनबी बैंक में जो कुछ हुआ उसे देख उपभोक्ता सशंकित हैं। यहां फर्जी चेक से 6 लाख 50 हजार रुपए निकासी का मामला प्रकाश में आया है। बैंक के वरिष्ठ प्रबंधक किशोर कुमार लाल ने इस संबंध में नगर थाना में एक सप्ताह पहले प्राथमिकी दर्ज कराई है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार अमित दीप मोटर्स इलाहाबाद को आवंटित चेक से शहर के रजवारी निवासी विजय जायसवाल ने छह लाख पचास हजार रुपए की निकासी की है। विजय ने अमित दीप मोटर्स को आवंटित चेक 459188 (18 अक्टूबर 2011) को अपने खाता 0502002100107680 में जमा किया। 19 अक्टूबर 2011 को चेक नंबर 022321 से 6 लाख 50 हजार रुपए की निकासी कर ली। अमित दीप मोटर्स के मालिक ने जब इससे संबंधित शिकायत इलाहाबाद के पीएनबी सिविल लाइन में दर्ज कराया कि यह चेक मेरे पास है तो इस चेक से पैसे की निकासी कैसे हुई। मामले की जब तहकीकात शुरू हुई तो औरंगाबाद में विजय द्वारा जमा किया गया चेक फर्जी पाया गया। थानाध्यक्ष वृजनंदन महतो ने बताया कि मामले में प्रबंधक के बयान पर भादसं की धारा 420, 467, 468, 471 के तहत कांड संख्या 387/11 दर्ज की गई है। कांड के अनुसंधानकर्ता मनोज राम बनाए गए हैं। चर्चा है कि फर्जी चेक से बैंकों में पैसे की निकासी हो रही है। देखने में चेक असली जैसा लगता है परंतु पैसा की तरह होता है नकली। विजय की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।


आयोडिन जागरूकता रथ पहुंची हसपुरा

हसपुरा (औरंगाबाद) :
आयोडिन नमक को ले उपभोक्ताओं में जागरूकता लाने के लिए निकली रथ बुधवार को हसपुरा रेफरल अस्पताल पहुंची। प्रभारी डा. मनोज कुमार ने हरी झंडी दिखा रथ को रवाना किया। स्वास्थ्य प्रबंधक अरविंद तिवारी, डीसीएम मनोज कुमार, कार्यक्रम के सदस्य आनंद झा, कमलेश शर्मा, संजीवन कुमार, स्वास्थ्य कर्मी मनीष कुमार, संदीप कुमार, अशोक कुमार उपस्थित रहे। रथ प्रखंड के विभिन्न गांवों, स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों पर पहुंची। आयोडिन नमक की कमी से होने वाले वाले बीमारियों के बारे में जानकारी दी गई। प्रबंधक ने स्वास्थ्य की दृष्टि से नमक पर ध्यान देने की बात कही।

कोर्ट हाजत में कैदियों ने किया हंगामा

औरंगाबाद :
कोर्ट हाजत में बुधवार शाम कैदियों ने जमकर हंगामा किया। जेल प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। कोर्ट हाजत से जेल जाने को कैदी तैयार नहीं थे। शाम 6 बजे तक समझौते का प्रयास चलता रहा। हंगामा कर रहे कैदी शंभू कुमार, काश्मीर कुमार, अजय सिंह, शशि कुमार, विजय यादव, विमलेश कुमार यादव ने कहा कि कोर्ट में पेशी के बाद भी हमें हाजत में बंद रखा जाता है। शाम चार बजे तक भी कोर्ट हाजत से बंदियों को जेल नहीं ले जाया जाता है। सुबह 9 बजे बंदी जेल से बाहर निकलते हैं और शाम छह बजे तक कोर्ट हाजत में बंद रहते हैं। 9 घंटे तक कैदियों को बिना शौचालय के हाजत में बंद रखा जाता है। किसी बंदी को शौचालय लगता है तो उसे डांटकर पुलिसकर्मी चुप करा देते हैं। कोर्ट हाजत में बना शौचालय भर गया है जिस कारण बंदियों को परेशानी होती है। हंगामा कर रहे कैदियों को नगर थानाध्यक्ष वृजनंदन महतो ने शांत कराया। समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। नगर थानाध्यक्ष के आश्वासन के बाद कैदी जेल जाने को तैयार हुए। उधर पूछे जाने पर जेलर लालबाबु सिंह ने बताया कि जेल में कड़ाई की गई है जिस कारण बंदी बेवजह के हंगामा कर रहे हैं। बंदी जेल में मोबाइल रखना चाहते हैं जो मेरे रहते संभव नहीं है। जेलर ने बताया कि कुछ दिन पहले कैदियों के पास से मोबाइल बरामद की गई है और इस मामले में नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है।


सहकारिता मंत्री के गांव पकड़ी गई बिजली चोरी

औरंगाबाद :
सूबे के सहकारिता मंत्री रामाधार सिंह के गांव सोखेया में विद्युत विभाग के अभियंताओं ने बुधवार को छापेमारी की। चोरी की बिजली जलाते छह ग्रामीणों के घरों से टोका तार जब्त किया। कार्यपालक अभियंता प्रणव कुमार, सहायक अभियंता अभय कुमार रंजन एवं कनीय अभियंता वीरेन्द्र कुमार ने बताया कि मंत्री के गांव में ग्रामीण चोरी की बिजली जलाते थे। किसी ने विभाग से कनेक्शन नहीं लिया था। मामले में अभियंताओं ने मुफ्फसिल थाना में ग्रामीण शिवमंगल सिंह, संजय सिंह, यमुना सिंह, मिथिलेश शर्मा, करीमन सिंह एवं विनोद सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। सभी पर एक किलो वाट विद्युत चोरी करने का आरोप लगाया गया है। कार्यपालक अभियंता ने बताया कि ग्रामीणों के खिलाफ सात सात हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है। उधर पूछे जाने पर सहकारिता मंत्री ने बताया कि बिजली चोरी करना राष्ट्रीय संपत्ति का नुकसान है। अगर मेरा बाप और भाई भी इस मामले में पकड़े जाएं तो मैं इसकी निंदा करता हूं। उन्होंने कहा कि विभाग ने क्या कार्रवाई किया है यह हमें पता नहीं है। उधर मंत्री के गांव में छापेमारी से गांवों में हड़कंप व्याप्त है। छापेमारी की सूचना सुन दूसरे गांव के ग्रामीणों ने तार से टोका हटाना शुरू कर दिया है।


अपराधियों ने मुंशी को किया अगवा 

गोह (औरंगाबाद) :

गोह थाना के हमीदनगर स्थित मंगला भट्ठा से मंगलवार रात्रि सशस्त्र अपराधियों ने सड़क निर्माण के मुंशी उपेन्द्र यादव को अगवा कर लिया है। छह की संख्या में रहे अपराधी भट्ठा पहुंचे और उपेन्द्र के साथ सोए मजदूर पिंटू मिश्रा, दिलीप तिर्की, मथुरा मुंडा की पिटाई की। मामले की लिखित सूचना परिजनों ने थाना को दिया है। डीएसपी मो. अजहर ने बताया कि मुंशी की बरामदगी के लिए गोह, उपहारा एवं हसपुरा थाना में छापेमारी की जा रही है। मामला ठेकेदारी को लेकर बताया जाता है। पुलिस ने बताया कि गोह थाना के खोजी गांव निवासी उपेन्द्र हमीदनगर से बिलारु तक लगभग तीन किलोमीटर तक बन रही पीसीसी सड़क निर्माण कार्य में मुंशी है। कार्य बागेश्वरी कन्सट्रक्सन कंपनी के द्वारा कराया जा रहा है।


स्थापना दिवस पर कार्यक्रम आयोजित

 ओबरा (औरंगाबाद) :

 सहारा इंडिया कार्यालय सभागार में बुधवार को द्वितीय स्थापना दिवस समारोह पर नंद किशोर प्रसाद की अध्यक्षता में कार्यक्रम आयोजित की गई। उद्घाटन जोनल मुख्य महाप्रबंधक एनके पाल ने दीप प्रज्वलित कर किया। जोनल महाप्रबंधक, रिजनल मैनेजर धीरेन्द्र प्रसाद, जोनल संपर्क पदाधिकारी किशोर अग्रवाल एवं सेक्टर मैनेजर प्रदीप कुमार ने कहा कि सहारा परिवार शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार देने में जुटी है। समाज में सबसे निचले तबके के नागरिकों को पैसा संचय करने का गुर सिखाया है। देश की उन्नति में सहारा का सहयोग सराहनीय रहा है। अभिकर्ता प्रदीप मिश्रा, रामजी प्रसाद, कामता प्रसाद, मोहन प्रसाद, राजेश कुमार, फील्ड अफसर राजेश कुमार, वेद प्रकाश, मोहन प्रसाद सोनी, गुड्डू कुमार, ममता कुमारी, सोनी देवी उपस्थित थे।




समस्या सुनने गांव पहुंचे विधायक

 रफीगंज (औरंगाबाद) :

जदयू विधायक अशोक कुमार सिंह ने बुधवार को ढोसिला पंचायत के आधे दर्जन गांवों का दौरा किया। ग्रामीणों से भेंट की और उनकी समस्या सुनी। पूछा कि तकलीफ बताइए हम उसके निदान का प्रयास करेंगे। अकौनी, नीमा वाजित, चातर, माड़ीपुर, फेसरा, ढोसिला खुर्द, ढोसिला कला एवं नीमा चतुर्भुज गांव में विधायक ने ग्रामीणों की समस्या सुनी। आंगनबाड़ी केन्द्र माड़ीपुर का जर्जर भवन देख विधायक भड़के और डीपीओ को स्थिति से अवगत कराया। तत्काल भवन निर्माण कराए जाने का आदेश दिया। महादलित मुनारिक राम ने मंदिर में चापाकल लगाने की मांग की। नीमा वाजित के ग्रामीणों ने पन्द्रह दिन पूर्व हुए सड़क दुर्घटना में थाना प्रभारी द्वारा निर्दोष लोगों को फंसाए जाने की शिकायत की तो विधायक ने थानाध्यक्ष जांच करने का आदेश दिया। फेसरा गांव के ग्रामीणों ने अहरा उड़ाही एवं तालाब में घाट निर्माण की मांग की। वार्ड सदस्या प्रमिला देवी ने चापाकल लगाने का मांग किया। पूर्व उपप्रमुख राजेन्द्र सिंह, बीस सूत्री अध्यक्ष अर्जुन सिंह, उपप्रमुख अशोक सिंह, पंचायत समिति सदस्य हरेन्द्र सिंह, ढोसिला पंचायत के मुखिया विनय कुमार सिंह, सरपंच रामकेवल प्रसाद, पंचायत समिति सदस्य संजय विश्वकर्मा, सुरजीत कुमार सिंह, उदय सिंह, दिलीप सिंह, सत्येन्द्र राम उपस्थित थे।



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें